28 March 2019

🌞~ आज का हिन्दू पंचांग ~🌞 दिनांक 28 मार्च 2019

🌞~ आज का हिन्दू #पंचांग ~🌞

⛅ दिनांक 28 मार्च 2019
⛅ दिन - गुरुवार
⛅ विक्रम संवत - 2075
⛅ शक संवत -1940
⛅ अयन - उत्तरायण
⛅ ऋतु - वसंत
⛅ मास - चैत्र (गुजरात एवं महाराष्ट्र अनुसार - फाल्गुन)
⛅ पक्ष - कृष्ण
⛅ तिथि - अष्टमी रात्रि 10:34 तक तत्पश्चात नवमी
⛅ नक्षत्र - मूल सुबह 10:11 तक तत्पश्चात पूर्वाषाढा
⛅ योग - वरीयान् शाम 04:43 तक तत्पश्चात परिघ
⛅ राहुकाल - दोपहर 01:59 से शाम 03:30 तक
⛅ सूर्योदय - 06:37
⛅ सूर्यास्त - 18:50
⛅ दिशाशूल - दक्षिण दिशा में
⛅ व्रत पर्व विवरण - शीतला अष्टमी
👉🏻https://www.vkjpandey.in

💥 विशेष - अष्टमी को नारियल का फल खाने से बुद्धि का नाश होता है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)
💥 अष्टमी तिथि के दिन तिल का तेल खाना और लगाना निषिद्ध है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-38)

🌷 घर को तीर्थ जैसा पवित्र बनाने 🌷
🔥 सुबह - शाम घी का दीपक करें।
⬜ जहाँ सोते हैं वहां २-३ दिन पुरानी चादर न बिछी रहे । एक या दूसरे दिन चादर बदल दें ....फिर भले पानी से ही धोकर सुखा दें ।
🍝 घर में नाश्ता करने से पहले सफाई हो जानी चाहिए । ऐसा करने वाले के घर से लक्ष्मी जाती नहीं ।
🍽 जूठे बर्तन रख कर न सो जाएँ ।
👉🏻https://www.vkjpandey.in

🌷 भविष्य पुराण 🌷
 🙏🏻 भविष्य पुराण में माना गया है कि हर इंसान को उसके शरीर, मन व बातों से किए गए पापों को भोगना पड़ता है। उसमें भी कुछ काम ऐसे हैं जिन्हें महापाप माना गया है। आइए जानते हैं पांच ऐसे ही महापापों के बारे में जिन्हें करने वालों को नरक में सबसे ज्यादा यातनाएं झेलनी पड़ती हैं ।
➡ ये हैं 5 सबसे बड़े पाप, इन्हें करने वालें को नर्क में मिलती है सबसे ज्यादा सजा
1⃣ अनीति का धन
किसी को ठग कर गलत काम कर या किसी के हिस्से की वस्तु को चुराकर धन एकत्रित करना और धन का दान न करने वाले को भी भविष्यपुराण में महापापी माना गया है।
2⃣ गुरु से धोखाधड़ी
गुरु मनुष्य को अच्छे-बुरे का ज्ञान देते हैं । गुरु को पिता के समान मानना चाहिए। गुरु के साथ कभी भी कपट एवं धोखाधड़ी नहीं करनी चाहिए। ऐसा करना सबसे बड़ा पाप माना गया है। ऐसे इंसान को उसके पापों की सजा मिलती है।
3⃣ पशुओं पर अत्याचार
पशुओं पर अत्याचार करना, ब्राह्मण की हत्या या उसका अपमान करना, नौकरों से बुरा व्यवहार करने वाले मनुष्य को भी कुंभीपाक नाम के नर्क की यातना सहनी पड़ती है। इसलिए भूलकर भी ये महापाप नहीं करना चाहिए।
4⃣ शराब पीना
शराब में तीन प्रकार के पाप बताएँ गए हैं ।स्त्री हो या पुरुष सभी को शराब व अन्य मादक पदार्थों से दूर रहना चाहिए।किसी भी तरह की शराब पीने से मनुष्य महापाप का भागी बन जाता है।
5⃣ चोरी करना
जो मनुष्य दूसरों की वस्तु हड़पने या चुराने की कोशिश करता है, वह पापी माना गया है। चोरी करने वाले इंसान या ऐसे काम में साथ देने वाले को नर्क में दुःख भोगने पड़ते हैं ।इसलिए मनुष्य को कभी भी ये महापाप नहीं करना चाहिए।
👉🏻https://www.vkjpandey.in

🌷 सफलता पाने हेतु 🌷
☺ सुबह उठो तो उससे थोड़ी देर विश्रांति पाकर प्रार्थना करके बाद में अपना जिस नथुने से श्वास चलता है वही हाथ मुंह को उसी तरफ घुमाकर वही पैर धरती पे रखोगे तो आपको कार्यों में भी सफलता की मदद मिलेगी.... विघ्न बाधाएँ आराम से टलेंगे । लेकिन ईश्वर केवल विघ्न बाधा टालने के लिए नहीं है ! ईश्वर तो पाने के लिये है ! आप सम्राट से चपरासी का काम ज्यादा दिन मत लेना।
👉🏻https://www.vkjpandey.in

🌞 🙏🏻🌷🌻🌹🍀🌺🌸🍁💐🙏🏻

मित्रों, आज तारीख 28 मार्च 2019 दिन गुरुवार चैत्र मास के कृष्ण पक्ष कि आज अष्टमी तिथि है ।। आज नारियल त्याज्य होता है । अष्टमी तिथि बलवती एवं व्याधि नाशक तिथि मानी जाती है ।। इस तिथि के देवता भगवान शिव जी माने जाते हैं । इसलिये इस तिथि को भगवान शिव का दर्शन एवं पूजन अवश्य करना चाहिए ।। यह तिथि जया नाम से विख्यात मानी जाती है । मंगलवार को छोड़कर बाकि किसी दिन की भी अष्टमी शुभ मानी गयी है ।। परन्तु मंगलवार की अष्टमी शुभ नहीं होती । इसलिये इस तिथि में भगवान शिव के पूजन से हर प्रकार की सिद्धियाँ प्राप्त होती है ।। इस तिथि को अधिकांशतः विष्णु और वैष्णवों का प्राकट्य हुआ है, इसलिये भगवान शिव और भगवान नारायण दोनों का पूजन एक साथ करके आप अपनी सम्पूर्ण मनोकामनायें पूर्ण कर सकते हैं ।।
हे आज की तिथि (तिथि के स्वामी), आज के वार, आज के नक्षत्र (नक्षत्र के देवता और नक्षत्र के ग्रह स्वामी), आज के योग और आज के करण ।। आप इस पंचांग को सुनने और पढ़ने वाले जातकों पर अपनी कृपा बनाए रखें ।। इनको जीवन के समस्त क्षेत्रो में सदैव ही सर्वश्रेष्ठ सफलता प्राप्त हो । ऐसी मेरी आप सभी आज के अधिष्ठात्री देवों/देवियों से हार्दिक प्रार्थना है ।। आज का पञ्चांग एवं इस प्रकार की जानकारियों को विस्तृत डिटेल में जानने के लिये इस लिंक को क्लिक करें-
👉🏻https://www.vkjpandey.in

।।। नारायण नारायण ।।।

No comments:

Post a Comment

Enter you Email