21 October 2019

दिवाली 2019 | 5 दिनों का है यह त्योहार | Diwali Festival Event Names | Deepawali 2019 | Diwali Pooja 2019

दिवाली 2019 | 5 दिनों का है यह त्योहार | Diwali Festival Event Names | Deepawali 2019 | Diwali Pooja 2019

diwali festival 2019
diwali festival event names 2019
दिवाली का त्योहार सनातन हिन्दू धर्म का अत्यंत पवित्र तथा सर्वाधिक प्रसिद्ध त्योहार है, दिवाली के इस पावन पर्व को दीपावली, चोपड़ा पूजन या लक्ष्मी पूजा के नाम से भी जाना जाता है। दिवाली के महोत्सव का प्रारंभ धनतेरस से होता है तथा भैया दूज के दिन तक यह पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है।
दिवाली के उत्सव के इन पाँच दिनों में माता लक्ष्मीजी सर्वाधिक महत्वपूर्ण देवी होती हैं। पाँचों दिनों में अमावस्या का दिन सबसे महत्वपूर्ण दिन होता है तथा इसे लक्ष्मी पूजा, लक्ष्मी-गणेश पूजा तथा दिवाली पूजा के नाम से जाना जाता है।
दिवाली के दिन लक्ष्मी पूजा करने के लिए शुभ मुहूर्त सूर्यास्त के पश्चात का माना गया है। प्रदोष के समय व्याप्त अमावस्या तिथि दिवाली पूजा के लिए उपयुक्त मानी गई है। अतः प्रदोष काल का समय लक्ष्मी पूजा के लिए सर्वश्रेष्ठ माना जाता है।
आज हम आपको बताएंगे, दिवाली के 5 महत्वपूर्ण त्योहारों की तिथियां तथा उन त्योहारों के अन्य नाम-

दिवाली का प्रथम दिवस
धनतेरस (शुक्रवार)      
- 25 October 2019
- २५ अक्तूबर २०१९
अन्य नाम/त्योहार- गोवत्स द्वादशी, वसुबारस, धनत्रयोदशी, धनतेरस पूजा, त्रयोदशी पूजन तथा धन्वन्तरि त्रयोदशी पुजा

दिवाली का द्वितीय दिवस
छोटी दिवाली (शनिवार)     
- 26 October 2019
- २६ अक्तूबर २०१९
अन्य नाम/त्योहार- दीवाली दीपक, यम दीपम, काली चौदस तथा हनुमान पूजा

दिवाली का तृतीय दिवस
दिवाली (रविवार)
- 27 October 2019
- २७ अक्तूबर २०१९
अन्य नाम/त्योहार- दिपावली, दीवाली लक्ष्मी पूजा, नरक चतुर्दशी, तमिल दीपावली, लक्ष्मी पूजा, दीवाली पूजा, केदार गौरी व्रत, चोपड़ा पूजा, शारदा पूजा, बंगाल की काली पूजा तथा अमावस्या लक्ष्मी पूजा

दिवाली का चतुर्थ दिवस
गोवर्धन पूजा (सोमवार)      
- 28 October 2019
- २८ अक्तूबर २०१९
अन्य नाम/त्योहार- गोवर्धन पूजा, अमावस्या दीवाली स्नान, दीवाली देवपूजा, गोवर्धन पूजा, अन्नकूट, बलि प्रतिपदा, प्रतिपदा गोवर्धन पूजा, द्यूत क्रीडा तथा गुजराती नया साल

दिवाली का पंचम दिवस
भाईदूज (मंगलवार)   
- 29 October 2019
- २९ अक्तूबर २०१९
अन्य नाम/त्योहार- भैया दूज, द्वितीया भैया दूज, भाऊ बीज तथा यम द्वितीया

इन पाँच प्रमुख त्योहारों के उपरांत 01 नवम्बर शुक्रवार के शुभ दिवस लाभ पञ्चमी का पर्व मनाया जाएगा, जिसके अन्य नाम - सौभाग्य पंचमी या लाभ पांचम है, जिसे मुख्यतः गुजरात राज्य के व्यापारियों द्वारा व्यापार वृद्धि तथा लक्ष्मी प्राप्ति के उद्देश्य से मनाया जाता हैं।

No comments:

Post a Comment

Enter you Email